एक्सक्लूसिव

इस अवार्ड को लेने के लिए कोई एक्ट्रेस क्यों नहीं होती तैयार

चाहे क्षेत्र कोई भी हो अवार्ड पाने की चाह तो सबकी ही होती है। सभी उम्मीद करते हैं कि हमको, हमारे काम के लिए पुरस्कार मिले। वैसे अवार्ड्स का मजा तो फ़िल्मी दुनिया के किरदारों को ही सबसे ज्यादा आता है। साल में कितने सारे इस तरह के कार्यक्रम होते हैं, जहाँ पर फ़िल्मी दुनिया को सराहा जाता है।
इसका नाम है गोल्डन केला अवार्ड्स। अच्छी फिल्मों को तो सभी सराहते हैं। लेकिन यहाँ अच्छे को नहीं, सबसे खराब परफॉरमेंस को अवार्ड के जरिये पेश किया जाता है। बॉलीवुड में गोल्डन केला अवार्ड्स का यह 7 वां साल है। अभी तक इसने हिंदी सिनेमा को आईना दिखाने का काम बहुत ही सही तरीके से किया है।
इस अवार्ड से सबको यह तो पता चल ही जाता है कि हमारी फिल्म किस तरह की रही। अगर आपकी परफॉरमेंस सही नहीं रहती है, तो आप अगली बार, अच्छा करके, यहाँ से अपना नाम हटवा भी सकते हो। यहाँ पर विजेताओं का चुनाव एक ऑनलाइन सर्वेक्षण के आधार पर किया जाता है।
आप अगर सोनाक्षी सिन्हा को पसंद करते हैं तो आपको जानकार दुःख होगा कि लगातार तीसरे साल इनको सबसे खराब एक्ट्रेस का अवार्ड मिला है।
एक्शन जैक्सन, लिंगा और हॉलिडे फिल्मों में इनकी अदाकारी को फ्लाप घोषित किया गया है. वहीँ सबसे खराब एक्टर रहे अर्जुन कपूर. इसी क्रम में बॉलीवुड की खराब फिल्म का अवार्ड गया, हमशकल्स पर.
इस तरह से सन 2007 में शुरू किया गया यह गोल्डन केला अवार्ड्स, अभी तक तो सही से अपना काम कर रहा है। बॉलीवुड को भी ध्यान देना होगा कि मात्र फिल्मों से पैसा कमाना ही सिनेमा का मकसद नहीं होता है।
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबर

हम 24x7 न्यूज चैनल 'इंडिया वॉयस' की खबरों को हम सबसे पहले, सबसे सटीक अपने पाठकों और दर्शकों तक पहुंचाते हैं। हमारा चैनल डेन नेटवर्क, एयरटेल, नेटविजिन, टाटा स्काई समेत कई प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है। जल्द ही हम डीडी डायरेक्ट, डिस टीवी समेत कई प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध होंगे। आप हमारी वेबसाईट http://indiavoice.com/home/ और http://www.purvanchallive.com/ पर ख़बरों, तस्वीरों, विचारों, के साथ-साथ एंटरटेनमेंट, क्रिकेट, जैसे खेलों और लाइफ़स्टाइल से जुड़ी सामग्री पा सकते हैं।
To Top